अरोमा तेल
Herbal Medicine Natural Care

अरोमा तेल क्या है ? विविध अरोमा तेल और इसके स्वास्थ्य लाभ

अरोमा तेल क्या है? What is Essential Oils in Hindi

अरोमा तेल आमतौर पर पौधों से निकला गया अर्क होता है जो वाष्पशील (सामान्य तापमान पर आसानी से वाष्पित) और हाइड्रोफोबिक (पानी मे नहीं घुलने वाला )तरल है।

अरोमा तेलों को वाष्पशील तेल, ईथर का तेल, सगंधित तेल या एसेंसिअल ऑइल के नाम से भी जाना जाता है।
अरोमा तेल जिस पौधे मे से निकाला गया हो उसके नाम से जाना जाता है जैसे कि लौंग का तेल, गुलाब तेल इत्यादि।

यह भी पढ़ें

एसेंशियल ऑयल क्या हैं, और वे कैसे काम करते हैं?  What is Essential Oil in Hindi

अरोमा तेल यानि एसेंसिअल ऑइल प्राकृतिक गुणों से भरपूर होते है जो स्‍वास्‍थ्‍य और सौंदर्य दोनों के लिए फायदेमंद होते हैं।
जैसे की हम जानते है अरोमा तेल पौधों और जड़ी-बूटियों को मिलाकर बनाये जाते है।

अरोमा तेल का उपयोग अरोमाथेरेपी और नेचुरोपैथी में किया जाता है।

अरोमा तेल हाइड्रोफोबिक तरल होता है मतलब यह पानी मे घुलनशील नहीं होता हैं और इसमें बाष्पशील अरोमा कंपाउंड होते हैं।

अरोमा तेल जिस पौधे या वनस्पति से प्राप्त किया गया हो इसकी खुश्बू यह तेल मे मौजूद रहती है, जिसके कारण उसको आम बोल चाल मे सुगन्धित तेल भी कहा जाता है।
अरोमा तेल का उपयोग अरोमाथेरपी के अलावा मॉइश्‍चराइजर, बॉडी लोशन और हेयर ऑयल या अत्तर के रूप मे भी प्रयोग किया जाता है।

लैवेंडर ऑयल Lavender Oil in Hindi

 

 

जब अरोमा तेल की बात आती है तो इसमें लैवेंडर (लैवेंडुला एंजुस्टिफोलिया) सभी आवश्यक तेलों में सबसे शीर्ष स्थान पर आता है।
लैवेंडर ऑइल का सबसे ज्यादा प्रभाव त्वचा पर होता है।
यह त्वचा से सबंधित बीमारियां जैसे की घाव, खरोंच, मुहांसे, रूखी त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है।
त्वचा के विकारों के अलावा इसकी खुश्बू बड़ी मनमोहक होती है जिसके कारण मानसिक शांति के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। इसकी खुशबू मन को शांति प्रदान करता है। जिसके कारण यह तेल चिंता और अनिंद्रा जैसे रोगों मे काफ़ी फायदेमंद है।
रात को सोते समय लैवेंडर ऑइल की मालिश करने से अनिंद्रा से मुक्ति मिल सकती है।
लैवेंडर ऑइल एक शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट भी है जिसका नियमित उपयोग करने उम्र बढ़ना कम हो जाता है और उम्र के कारण चेहरे पर पड़ने वाली जुरियों कम हो जाती है।

यह भी पढ़ें

मुँहासे के लिए Top 12 घरेलू उपचार  Pimples Home Remedy in Hindi

टी ट्री ऑयल Tea Tree Oil in Hindi

 

टी ट्री ऑयल भी काफ़ी लोकप्रिय एसेंसिअल ऑइल मे से एक है जिसका उपयोग त्वचा और बालों सहित नाखूनों को स्वस्थ रखने के लिए किया जाता है।
इस विषय मे अनुसंधानों से पुष्टि भी हुयी है।
टी ट्री ऑइल मुहांसों के कारण होने वाले काले धब्बे को मिटाने मे काफ़ी फायदेमंद है।
टी ट्री ऑइल को हेयर ऑयल के साथ मिलाकर रोजाना इस्तेमाल करने से रुसी से छुटकारा मिल सकता है।
जिसके कारण रुसी से होने वाले हेयर फॉल कंट्रोल किया जा सकता है इस्‍तेमाल कर सकते हैं।
इसके अलावा टी ट्री ऑइल रूखी त्वचा, फोड़े जैसी समस्याओं को दूर करने में भी मदद करता है।

Natural Tips for long hair in Hindi लंबे बालों के लिए कुदरती उपाय

चंदन ऑयल Sandal Wood Oil in Hindi

 

चन्दन का उपयोग सदियों से धुप, लेप, अत्तर और सौंदर्य प्रसाधन के रूप मे किया जाता है।
चंदन का तेल आमतौर इसकी मीठी गंध के लिए जाना जाता है। यह तेल आसानी से अन्य तेलों के साथ अच्छी तरह से मिक्स हो जाता है।
सदियों से, चंदन का तेल भारत सहित कई देशों में धार्मिक परंपराओं का एक हिस्सा है और इसको एक पवित्र पेड़ माना जाता है।
इस तेल का उपयोग एंटी सेप्टिक, एंटी इंफ्लामेट्री और एंटी एजिंग के रूप मे किया जाता है।
इसके अलावा इसका प्रयोग से तनाव और सिर दर्द के लिए किया जाता है।

घर बैठे बनाये लोबान एंटी एजिंग क्रीम  Homemade Anti Aging Cream in Hindi

लेमन ग्रास ऑयल Lemon Grass Oil in Hindi

 

लेमन ग्रास ऑइल का सबसे ज्यादा उपयोग तनाव से राहत दिलाने के लिए किया जाता है।
इसके अलावा लेमन ग्रास ऑयल सिर दर्द, थकान, अनिद्रा, अपच, उच्च रक्तचाप, और डेटोक्सिफिकेशन में भी मदद करता है।
लेमन ग्रास ऑयल उपयोग बारिश के कारण होने वाली सर्दि के लिए भी किया जाता है।
लेमन ग्रास ऑइल की मालिश करने से यह ताजगी का अहसास दिलाता है और थकान दूर करता है।

 

गुलाब ऑयल Rose Oil in Hindi

 

गुलाब ऑयल हार्मोनल असंतुलन के कारण होनी वाली एंग्जायटी को कम करने मे काफ़ी मददगार है।
यह चिंता को कम करके बॉडी को आराम पहुंचाता है। जिसके कारण दिनभर के कामकाज से उपजे तनाव को दूर करके मानसिक शांति का अहसास दिलाता है।

घर पर गुलाब जल कैसे बनाये  Homemade Rose Water in Hindi

जर्मन कीमोमाइल German Chamomile oil in Hindi

 

जर्मन कीमोमाइल गर्मियों के कारण होने वाले चर्म रोगो मे बहुत उपयोगी है जैसे की खुजली,जलन, डर्मीटाइटिस, मुहांसे, सोरायसिस, छोटे बच्चे मे होने वाली नेपि रेसिस, एक्जिमा और रूखी त्वचा जैसी समस्याओं में काफ़ी फायदेमंद है।

 

यूकेलिप्ट्स अरोमा तेल  Eucalyptus oil in Hindi

 

यूकेलिप्ट्स ऑइल बुर्जुगों के लिए जड़ी बुट्टी के समान है।
यह तेल बड़ी उम्र के लोगों में बुखार, सर्दी-जुकाम, मांशपेशियों का दर्द और तनाव सहित अनिद्रा होने पर काफ़ी फायदेमंद है।
इसके अलावा यह बेड रिडन बुजुर्ग मे घाव भी जल्दी भरते हैं।

दर्द शामक दवाई के टॉप 10 प्राकृतिक विकल्प  Natural Pain Killer In Hindi

पिपरमिंट ऑइल pipermint Oil in Hindi

 

जर्मन कैमोमाइल की तरह पिपरमिंट गरमी की मौसम काफ़ी फायदेमंद है।
पिपरमिंट ऑइल को पैरो के तलवों मे मालिश करने से शरीर का तापमान ठंडा किया जा सकता है।  अगर किसी को बहुत गर्मी महसूस हो रही हो तो भी यह प्रयोग किया जा सकता है।
इसके अलावा पिपरमिंट ऑइल का उपयोग सिरदर्द,नाकबंद या पाचनतंत्र संबंधी समस्या मे किया जाता है।
इसकी मालिश करने से शरीर मे ताजगी आती है और मन को शांत रखने मे मदद करता है।

जेरेनियम अरोमा तेल Geranium oil in Hindi

 

जेरेनियम ऑइल का उपयोग अरोमाथेरेपी मसाज में लेवेंडर और कीमोमाइल ऑइल्स के साथ फुल बॉडी मसाज मे कियाजाता है, ये तनाव कम करके बॉडी और माइंड को रिफ्रेश करता है।
मसाज के समय लेमनग्रास और यूकेलिप्ट्स ऑइल को डिफ्यूजर में डालकर हवा में खुशबू फैलायी जाती है जिससे अरोमाथेरपी ज्यादा असरदार बनाया जा सके।

Don't miss out!
Subscribe To Newsletter
आरोग्य विषयक जानकारी के लिए सब्सक्राइब करें
Invalid email address
Give it a try. You can unsubscribe at any time.

Leave a Reply